Arvind Swamy Success Story:- फिल्में चलनी बंद हुईं तो छोड़ी इंडस्ट्री, 10 साल में करोड़पति बिजनेसमैन बन गया ये एक्टर

Arvind Swamy Success Story:- अरविन्द स्वामीजी का जन्म 18 जून 1970 को तमिलनाडु राज्य के चेन्नई में हुआ था। वह एक भारतीय फिल्म अभिनेता हैं और तमिल, मलयालम, तेलुगु और बॉलीवुड फिल्मों में टेलीविजन प्रस्तुतकर्ता, गायक, आवाज कलाकार और व्यवसायी के रूप में अपनी भूमिकाओं के लिए जाने जाते हैं। यह एक ऐसे अभिनेता की कहानी है जिसने एक प्रतिष्ठित उद्योग को छोड़कर बिजनेस की दुनिया में अपना करियर शुरू किया। आज की सक्सेस स्टोरी में हम जानेंगे कि उन्हें ये फैसला क्यों लेना पड़ा। 

फिल्म थालापथी से फिल्म इंडस्ट्री में इंट्री

Arvind Swamy का फिल्मी करियर 1991 में थलापति से शुरू हुआ था। और मशहूर फिल्म निर्देशक मणिरत्नम ने इस फिल्म से अपना करियर शुरू किया था। यह फिल्म लोगों को बहुत पसंद आई और व्यापारिक रूप से सफल रही। थलापति: अरविंद स्वामीजी ने इस फिल्म में अर्जुन का प्रेरित किरदार निभाया था।

Arvind Swamy पूरे भारत में स्टार बने

Arvind Swamy
अरविंद स्वामी पूरे भारत में स्टार बने

1992 की फिल्म रोजा और 1995 की बॉम्बे ने अरविंद स्वामी को Pan India Star बना दिया। इन दोनों फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन इनके साथ ही लोगों की अरविन्द स्वामीजी से उम्मीदें कई गुना बढ़ गईं।

एक स्टार अचानक फिल्मी दुनिया से गायब हो जाता है

90 के दशक के आखिर में अरविंद स्वामीजी की फिल्में चलनी बंद हो गईं। न तो बॉक्स ऑफिस कलेक्शन मिला और न ही समीक्षकों से तारीफ. फिर 2000 में उन्होंने फिल्मी दुनिया को अलविदा कहने का फैसला किया। यह निर्णय फस्ट्रेशन में लिया गया और उनके जीवन में एक महत्वपूर्ण मोड़ बन गया।

फिल्मी दुनिया से दूर बिजनेस की दुनिया में डेब्यू किया

2005 में Arvind Swamy ने अपने पिता की कंपनी यानि वी.डी. स्वामी एंड कंपनी को संभालना शुरू किया। अपने पिता की कंपनी का प्रबंधन करते समय, उन्होंने एक बिजनेस अवसर देखा और अपनी उद्यमशीलता यात्रा शुरू की। उन्होंने Talent Maximus नामक कंपनी की स्थापना की, जो Payroll प्रोसेसिंग और अस्थायी स्टाफिंग सेवाएं प्रदान करती है।

उनकी कंपनी Talent Maximus नए रिकॉड बना रही है

Arvind Swamy के नेतृत्व में Talent Maximus एक छोटी कंपनी से एक बड़े उद्यम में विकसित हुआ था। 2022 में कंपनी ने 418 मिलियन डॉलर यानी 3,300 करोड़ रुपये का रेवेन्यू दर्ज किया था। Arvind Swamy एक सफल बिज़नेसमैन के रूप में उभर रहे थे।

0 से स्टार्ट करने की तयारी की सीख

दुनिया भर में स्टारडम छोड़कर जीरो लेवल से सबकुछ सीखने और उसमें सफल होने का जीता जागता उदाहरण हैं Arvind Swamy। जहां सफलता नहीं मिल रही है उन चीजों को समझने और दूसरे क्षेत्र में सम्मान के साथ अपना नाम बनाने की यह कहानी काफी प्रेरणादायक है। उनकी बिजनेस सक्सेस को देखकर साफ है कि वह न सिर्फ एक बेहतरीन एक्टर हैं बल्कि एक स्मार्ट बिजनेसमैन भी हैं।

हम सभी फिल्मों में देखते हैं कि हीरो कैसे जल्दी अमीर बन जाता है, कैसे बड़ा बिजनेस एम्पायर खड़ा कर लेता है। लेकिन इस सफलता की कहानी में एक हीरो ने असल में एक बड़ा बिजनेस साम्राज्य खड़ा कर दिया है। उनकी कहानी हमें बदलाव और असफलताओं को स्वीकार करना सिखाती है। पीछे हटें और सफलता की नई राह खोजें।

CategoryDetails
Full NameArvind Swamy
Date of Birth18th June 1970
Place of BirthChennai, Tamil Nadu, India
NationalityIndian
Height5 ft 8 in
Weight75 Kgs
ParentsV. D. Swami (Father), C. V. S. Vasantha (Mother)
SpousesGayathri Ramamurthy (1994-2010), Aparna Mukherjee (2012-present)
ChildrenRudra, Adhira
EducationLoyola College, Chennai (Bachelor’s), Wake Forest University, US (master’s in international business)
Career Highlights– Debut in “Thalapathi” (1991) under Mani Ratnam
– Success with “Roja” (1992) earning Tamil Nadu State Award
– Bollywood debut in “Saat Rang Ke Sapne” (1997)
– Business involvement with InterPro Global, Prolease India, and Talent Maximus
– Comeback with “Kadal” (2013) after an injury break
Other RolesActor, Model, Entrepreneur, Television Presenter
Business Ventures– Director and Chairman of InterPro Global and Prolease India until 2005
– Established his own business “Talent Maximus” in India (temporary hiring and payroll processing)
Arvind Swamy Success Story

अगर आपको ये कहानी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें। TodayTime.in को अपना बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद।

Read More:- Sattuz Success Story:- इस बिहार के लड़के ने सिर्फ सत्तू से करोड़ो की कंपनी बनाई, पढ़े पूरी कहानी

Leave a Comment